Caste Census Debate: जातिगत जनगणना के बीच उमा भारती ने उठाया ओबीसी आरक्षण का मुद्दा

8
Uma Bharti

भोपाल में सामाजिक समरसता गौ रक्षा संकल्प कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. इस दौरान बीजेपी नेत्री उमा भारती ने मंच से ओबीसी और महिला आरक्षण का मुद्दा उठाते हुए कहा कि सरकारी नौकरी में ओबीसी वर्ग के लोगों को 27 प्रतिशत आरक्षण मिलना चाहिए.

यही नहीं उमा भारती ने कहा कि एससी-एसटी ही नहीं बल्कि जो देश के गरीब सवर्ण हैं, उन्हें भी आरक्षण मिलना चाहिए. गरीब सवर्ण वर्ग के लोगों को 10% आरक्षण मिलना चाहिए. उन्होंने कहा मैंने कई ऐसे ब्राह्मण और वैश्य देखे हैं जो बेहद गरीब हैं, उन्हें 10% आरक्षण मिलना चाहिए.इसके आगे उमा भारती ने कहा कि जब तक समाज का कोई भी शख्स अपने अधिकारों से वंचित रहेगा तब तक आरक्षण को खत्म नहीं किया जा सकता है.

आरक्षण तभी खत्म होगा जब देश के हालात उसकी व्यवस्था ठीक हो जाएगी. आरक्षण देने जैसे हालात नहीं रहेंगे, एसटी-एससी वर्ग के लोग खुद कहें कि उन्हें आरक्षण नहीं चाहिए तभी इसे खत्म किया जा सकता है. इससे पहले आरक्षण को कोई माई का लाल खत्म नहीं कर सकता.