केस्टो , पर्थो और बालू जेल में हैं, मैं नहीं मानती कि वे चोर हैं: ममता

8

शिक्षक भर्ती, राशन या गौ तस्करी मामले में प्रदेश के कई नेता और मंत्री सीबीआई-ईडी की जांच के घेरे में हैं. इस स्थिति में जेल में बंद अणुव्रत, पार्थो और ज्योतिप्रिय मल्लिक के बाद ममता बनर्जी तृणमूल सुप्रीमो की आवाज में आत्मविश्वास का स्वर है कि वे चोरी नहीं कर सकते. ममता ने नेताओं और मंत्रियों की गिरफ्तारी के खिलाफ प्रतिशोध की चेतावनी भी दी. शुक्रवार को नेताजी इंडोर में मेगा रैली के मंच से ममता ने दावा किया कि गौ तस्करी के लिए पूरी तरह से केंद्र जिम्मेदार है. उन्होंने कहा कि गाय किसकी अधीन हैं? बीएसएफ. किसका संगठन? बीच में गाय की रक्षा कौन करता है? सीमा की रक्षा कौन करता है? बीएसएफ. गायें बिहार, उत्तर प्रदेश, राजस्थान से आती हैं। क्या आप कार पास के दौरान पैसे नहीं खाते? लैवेंचस खाओ।’ केंद्र पर हमला बोलते हुए ममता ने आगे कहा, ‘कोयले की धूल से गंदगी नहीं धुलेगी. वे किसके अधीन हैं? बीच में उन्हें बार-बार कहें. बार-बार झूठ सच किया जाता है. क्या हम सब चोर हैं? भ्रष्टाचार दिखा रहा है. और वहां उन्हें सिखाया जा रहा है और पैसा दिया जा रहा है, कहो, तृणमूल चोर। यदि तुम ‘नहीं’ कहोगे तो तुम लाल हो जाओगे।’