कराची में 450 लोगों की मौत, शवों को रखने के लिए नहीं मिल रही जगह

कराची : पाकिस्तान के कराची में भीषण गर्मी का कहर जारी है। पिछले कुछ दिनों से कराची के लोग भीषण गर्मी से जूझ रहे हैं।…

कराची : पाकिस्तान के कराची में भीषण गर्मी का कहर जारी है। पिछले कुछ दिनों से कराची के लोग भीषण गर्मी से जूझ रहे हैं। बीते चार दिनों में कराची में लू से 450 लोगों की मौत हो चुकी है। चिंताजनक बात यह है कि यह मौत बेघर और सड़क पर रहने वालों की हुई है जिसकी वजह से परिजनों से शवों की पहचान करवाने में काफी दिक्कत हो रही है।

पाकिस्तान के सबसे बड़े शहर कराची में भीषण गर्मी के कारण पिछले चार दिनों में 450 लोगों की मौत हो गई है। एक प्रमुख एनजीओ ईधी फाउंडेशन ने बुधवार को यह दावा किया है। पाकिस्तान का बंदरगाह शहर कराची शनिवार से लू की चपेट में है। बुधवार को लगातार तीसरे दिन पारा 40 डिग्री के पार रहा, जो तटीय क्षेत्रों के लिए बहुत अधिक तापमान है। फाउंडेशन के प्रमुख फैसल ईधी ने कहा कि कराची में हमारे चार मुर्दाघर हैं। वहां शवों को रखने के लिए जगह नहीं बची है।

ज्यादातर शव बेघर लोगों और सड़कों पर नशा करने वालों के हैं। उन्होंने कहा कि मुर्दाघर में सोमवार को 128 और मंगलवार को 135 शव लाए गए थे। अधिकांश मृतकों की पहचान नहीं हो पाई है, क्योंकि परिवार का कोई भी सदस्य दावा करने नहीं आया है।

मौत के लगातार मामले सामने आने के बाद सिंध की सरकार ने कराची में 77 हीट वेव राहत केंद्र स्थापित किए हैं। यह कदम पाकिस्तान मौसम विज्ञान विभाग द्वारा देश के दक्षिणी क्षेत्रों में अत्यधिक तापमान को लेकर गंभीर चेतावनी के बीच उठाया गया है। कराची के अस्पतालों में हर दिन भारी संख्या में मरीज आ रहे हैं, जिससे शहर के चिकित्सा संसाधनों पर दबाव बढ़ रहा है।